नमस्कार दोस्तों, आज के हमारे पोस्ट में जानेंगे pyar kya hai. अगर आप भी जानना चाहते हैं pyar kya hota hai तो हमारे पोस्ट को दिल और दिमाग से पढ़ें क्योंकि इस दुनिया में प्यार बहुत से प्रकार के होते हैं जिसे हम समझ नहीं सकते, इसलिए आज के इस लेख की मदद से आप जानेंगे प्यार क्या होता है।

दोस्तों में नितिन पटेल इस पोस्ट को आप लोग के लिए लिखा है ,,प्यार,, एक ऐसा शब्द है जिसे सुनने के बाद हम बहुत भावुक और दिवाना हो जातें हैं यु कहें कि हम जिस प्राणी को प्यार भरा मन से उसके बारे में सोचते हैं तब हम ख्वाबों की दुनिया में चले जाते हैं और उसके बारे में ही हमारे मन में विचार आता है।

किसी भी चीज़ की कल्पना तभी हम कर सकते हैं जब हमारे मन में उसके प्रति pyar आए. प्यार और मोह के बिना हम किसी चीज या प्राणी की कल्पना नहीं कर सकते हैं इसलिए हमारे जीवन में प्यार होना जरूरी है।

इस प्रथ्वी पर 775.28 crores लोग हैं और इन करोड़ों की संख्या में लोग जो है उनके विचार से प्यार की परिभाषा अलग-अलग होती है। प्यार एक ऐसा शब्द है जिसे सुनने के बाद मन में सुकुन मिलता है. हमारे समाज में बहुत से ऐसे लोग हैं जो प्यार की परिभाषा अलग-अलग तरीके से समझते हैं।

इस दुनिया में कोई अपने माता-पिता, गुरु जन, भाई बहन से प्यार करते हैं ऐसा इसलिए क्योंकि प्यार एक ऐसा शब्द है जिसे सुनने और महसूस करने के बाद हमारे रिश्ते काफी मजबूत हो जातें हैं। इस दुनिया में जितने भी प्राणी है, उनके अंदर प्यार जरूर होता है. प्यार के बिना किसी भी प्राणी का जीवन अच्छी तरह से व्यतीत नहीं हो सकता है।

हमारे जीवन में प्यार बहुत ही कीमती चीज है. इसे हम महसूस कर सकते हैं लेकिन वही हम प्यार को शब्दों में बया नहीं कर पाते। प्यार की भावना तभी से मानव के मन में आता है जब वह जन्म लेता है. लेकिन बढ़ती उम्र के साथ यानी कि किशोरावस्था में पहुंचने के बाद हमारे मन में प्यार बहुत ही ज्यादा महत्व ‌हो जाता है।

कोई अपने मन की इच्छा की पूर्ति करने के लिए किसी लड़का या लड़की से प्यार करता है लेकिन इन दोनों से भी हट कर लोग प्यार करते हैं। किसी भी चीज को पाने के लिए हमारे मन में जुनून के साथ-साथ प्यार होना जरूरी है।

हम जानते हैं हमारा यह पोस्ट pyar kya hai in hindi को पढ़ने के लिए ज्यादातर नौजवान और किशोर आएं हैं इसलिए हम इस पोस्ट ,,pyar kya hota hai,, को आपके अनुसार लिखा है जिससे आप जान जाएंगे प्यार क्या है।

Pyar kya hai.Pyar kya hota hai

अब हम आपको प्यार की परिभाषा बताएंगे, what is love in hindi में जिससे आप आसानी से समझ जाएंगे pyar kya hota hai.

Pyar एक ऐसा शब्द है जिसे हम महसूस कर सकते हैं। प्यार हमें दिमाग से नहीं दिल से होता है. हमारा दिमाग किसी भी चीज पर विचार करता है वही दिल उससे प्यार करता है। प्यार हमेशा चाहत ही पेदा करतीं हैं. जब हम किसी चीज को चाहने लगते हैं तो उससे हमलोगो को दिल से pyaar हो जाता है।

प्यार वो चीज़ है जिसे हम सिर्फ सिर्फ महसूस कर सकते हैं. अगर यह कोई वस्तु होता तो हम महसूस कर पाते लेकिन यह एक ऐसा शब्द है जिसे हम अपने शब्दों में किसी के साथ बयां नहीं कर सकते क्योंकि यह एक समुंद्र की तरह है। प्यार शब्द को इंग्लिश में ,, i love you,, के भी नाम से जानते हैं।

i love you हम जिसके लिए बोलते हैं उसे हम पुरा दिल दे देते हैं और वातावरण बहुत ही सुहाना महसूस होने लगता है क्योंकि प्यार बहुत ही कोमल और सुखद होता है।

इस पृथ्वी पर जितने भी जीव है उन सभी को प्यार की जरूरत होती है और वह जीव बिना प्यार के एक समूह में नहीं रह सकता है। अगर हमारे अंदर प्यार है और हम चाहते हैं की हमें हर व्यक्ति पसंद करें तो इसके लिए आपके अंदर प्यार होना चाहिए।

हमारे आस पास के मोहल्ले में या आपके मोहल्ले में आपने कभी देखा होगा कि कोई ऐसा व्यक्ति है जो कि काफी गुस्सैल टाइप का होता है आपको लगता है कि उसके अंदर थोड़ा सा भी प्यार नहीं है. लेकिन उसके अंदर प्यार होता है क्योंकि आप जानते हो इस दुनिया में जीने के लिए प्यार आपके अंदर होना चाहिए। कितना भी जिद्दी और गुस्सैल टाइप के आदमी के अंदर प्यार होता है।

ऐसे पूछों Hello Google kaise ho – गूगल कैसे हो। ऐसे 5 तरीके से पूछों

Pyar kya hota hai.

प्यार हमारे जीवन में एक ऐसा एहसास है जिससे हम जिंदगी जीने का लुफ्त बहुत ही शानदार तरीके से जीते हैं. अगर आपके पास बहुत सारे धन दौलत है और वही आपके अंदर प्यार नहीं है तो यह धन दौलत आपका कोई काम का नहीं होगा। सबसे पहली बात पैसे कमाने के लिए आपके अंदर प्यार भी होना चाहिए और थोड़ा कड़वाहट भी, अगर यह दोनों चीज बराबर में रहे तो हम जिंदगी को बहुत ही शान से जीते हैं।

आपने भी महसूस किया होगा जब आपको कोई भी चीज पसंद आ जाती है तब उस चीज के प्रति आपके सोचने समझने की नजरिया बदल जाता है। कितना भी बड़ा दुश्मन क्यों ना हो अगर आपकी तरफ से उसे प्यार महसूस होता है तो वह दुश्मनी ज्यादा दिन तक नहीं रहेगी, वह दुश्मनी दोस्ती में बदल जाएगा।

इस पृथ्वी पर जितने भी जीभ है अगर उनके अंदर प्यार है तो वह भावुक, विनम्र और काफी संवेदनशील हो जाते हैं. किसी पर दया आ जाए वह भी एक तरीके से प्यार ही होता है जिसके चलते आप उस पर दया आ जाती है।

किसी भी चीज को हम प्यार तभी करते हैं जब उसमें कुछ अहम बात, यानी कि कुछ खास बात हो तभी हम उस चीज या उस प्राणी से प्यार करते हैं। प्यार जबरदस्ती नहीं किया जाता है इसे मन और दिल के इशारे से किया जाता है अगर वह आपको किसी बात को लेकर पसंद है तो आपको उस व्यक्ति या लड़की पर प्यार आ जाएगा।

यहां तक पढ़ने के बाद आप तो जान ही गए होंगे कि प्यार क्या होता है अगर आप यह भी जानना चाहते हैं कि एक इंसान को प्यार कैसे होता है तो उसके बारे में मैंने नीचे लिखा है आप उसे भी पढ़ें उसके साथ साथ इस पोस्ट को पूरा पढ़ें।

PUBG Ka Baap Kon Hai [ 100% असली बाप ] जानें PUBG के बाप के बारे में।

प्यार किस वजह से होता है.Pyar kya hai

किसी भी काम को करने के लिए हमारा मन तभी मानता है जब उसमें कोई वजह छुपा हुआ इसी प्रकार हम किसी व्यक्ति या फिर लड़की से प्यार करते हैं उनके हमारे मन में कुछ वजह पैदा हो तभी हम उसे प्यार की भावना से देखते हैं।

प्यार कोई एक वजह से नहीं होता है प्यार होने का अनेकों वजह हो सकता है। अगर हमें कुछ पाने की इच्छा हो तब भी प्यार हो ही जाता है जैसे मान लीजिए, अगर आप अमीर बनना चाहते हैं तो इस समय आप प्यार किस्से करोगे ? जाहिर सी बात है आप पैसे से करोगे इसके साथ-साथ आप अपने काम से करोगे।

किसी भी चीज से प्यार होने का सबसे बड़ा वजह दो चीजों का होता है।

1. लगाव.

किसी भी चीज को लेकर अगर हमारे मन में लगाओ होता है तो धीरे-धीरे उस चीज से हम लोगों को प्यार होने लगता है ठीक इसी प्रकार आप किसी भी चीज से प्यार करना चाहते हैं या कर रहे हैं तो आपको लगाओ बहुत होगा उस चीज से।

प्यार को बहुत से भाषा में हम बोलते एवं समझते हैं इसी प्रकार लगाव प्यार ही होता है।

2. व्यक्ति विशेष या आकर्षक.

किसी व्यक्ति में कोई ऐसी बात जरूर होती है जिनसे हमारा मन उनके प्रति आकर्षित हो जाता है तो प्यार के चलते होता है। किसी इंसान या फिर कोई भी चीज चाहे अगर उसके पास बहुत सारा धन हो या किसी भी प्रकार का ज्ञान हो और वह हमें चाहिए तो हम उनसे पहले प्यार करना शुरू कर देते हैं।

आजकल के इस दौर में लोग ज्यादातर सच्चे प्यार नहीं करते क्योंकि आजकल के नए जनरेशन पैसे धन दौलत के लिए ही ज्यादातर प्यार करते हैं अगर आपके पास धन दौलत है तो आपके पास बहुत सारे आदमी आएंगे और अच्छी तरह से बात करेंगे और आपको पटाने की कोशिश करेंगे।

तो अगर आप सोच रहे हैं प्यार क्या होता है और प्यार किस वजह से होता है तो आपने यह 2 ऊपर लिखी हुई लाइन को पढ़कर समझ गए होंगे कि किन किन वजह से लोग आजकल प्यार करते हैं।

दोस्तों मैं अपने साथ एक बीती घटना के बारे में आपके साथ साझा करना चाहता हूं जिससे कि आपको भी लगे प्यार कब और कैसे हो जाता है। आज से कुछ महीने पहले मुझसे एक लड़की मिली उसकी उम्र 20 साल की और मेरा 22 साल, ज्यादा सोचे नहीं मेरा सही उम्र 23 साल है। वह लड़की मेरे घर में मेहमान बन कर आई थी।

और आपको पता है कि हमारे भारत देश में मेहमानों को भगवान जैसे स्वागत किया जाता है. तो मैंने भी उसका स्वागत पूरी जोरों शोरों से किया मैं यह नहीं था वह मुझसे प्यार करती है या मैं यह नहीं सोचता था कि मैं उससे प्यार करता हूं। 5 दिन 6 दिन ऐसे साथ में बीत गए साथ में खाना खाते थे साथ में बैठते थे और आसपास के समाज की बात करते थे कौन क्या करते हैं और आप क्या पढ़ रहे हैं और क्या चीज की पढ़ाई आगे करना चाहते हैं।

तो इससे छोटे मोटे मजेदार सवाल को करके हम लोगों ज्यादा मस्ती करते थे. दोस्तों मैं आपको बता दूं कि मैंने जिंदगी में पहली बार उस दिन एक लड़की के साथ अच्छी तरह से समय बिताया। आपको बताया था कि वह लड़की मेरे घर मेहमान बन कर आई थी और आप जानते हो घर में मां बाप के सिवाय अन्य सदस्य भी रहते हैं क्योंकि मेरा परिवार सम्मिलित है और परिवार में कुल 15-16 लोग हैं तो ऐसे में वह लड़की हमारे पास बहुत ही ज्यादा बैठती थी। यानी कि बहुत ही ज्यादा समय हमारे पास ही देती थी।

हम लोगों के मन में ऐसा वैसा कोई भी विचार नहीं था क्योंकि हमारी उम्र और उसकी उम्र में कोई ज्यादा फर्क नहीं था जिस कारण से उसे हमारे साथ बैठने में काफी अच्छा लगता था लेकिन घर के कुछ लोग ऐसे थे जो कि कुछ अलग ही सोचने लग गया। और यह बात उस लड़की को भी मालूम चला, तो भाई जब यह बात उसको भी पता लगा तब हम दोनों के बीच इस बात को लेकर थोड़ी बहुत बहस हुई. हमें अभी तक यह मालूम नहीं था कि वह लड़की हमसे प्यार करने लगी है।

वह हमारे घर में 15 से 30 दिनों की मेहमान थी। वो अपने घर जाने से पहले उसने अपनी मन की बात हमें बतादी, उसने बोला या आपके साथ बातचीत और खाना सब साथ में खाने के बाद न जाने आपके बिना हमारा मन नहीं लगता, बात तो सही थी हमको भी उसके बिना मन नहीं लगने लगा, जब यह बात उसने बताई तब हमने भी अपनी मन की बात उसे बता दिया।

आप लोगों को पता है कि आज कल भी गांव में बच्चे का उम्र जब तक नहीं 16-17 हो जाता है तब तक इसे मोबाइल नहीं मिलता है अभी यह बात सभी बच्चों पर लागू नहीं होती है कुछ बच्चों पर लागू होती है तो ऐसे बच्चे में से वह लड़की भी थी जिसे मोबाइल तो था लेकिन घरवालों की उस पर कड़ी नजर रहती थी. में तो एक writer हूं इसके बारे में सबको मालूम था और हमारे पास मोबाइल, laptop था।

हम आपको बता दें जब किसी आदमी को किसी भी चीज या फिर किसी भी लड़की से प्यार हो जाता है तब उसके बिना उसको मन नहीं लगता और आज का जमाना मोबाइल फोन का है जब मन हो किसी से बात करने का तब फोन लगाओ और बात कर लो, तो हम दोनों ने भी वही किया और अभी तक कर ही रहे हैं।

तो देखिए अब हम आपको बताते हैं किस वजह से हमें या, उसको हमसे प्यार हों गया। एक तो वह हमारे उम्र से 3 साल छोटी थी और अभी मैं 12 वी की पढ़ाई कर रहा हूं और वह B.A की कर रही थी. हम दोनों के बहुत से बातें मिलती थी और सबसे बड़ी वजह कि मैं और वह, दोनों साथ में मिलकर खाना खाते थे और साथ में घुमने जाते थे इसलिए हम दोनों को प्यार हो गया. और हम आपको यह भी बता दें कि वह पारिवारिक रिश्ते में वो हमारे भाभी की बहन थी।

हम आपसे यही कहेंगे कि आप ऐसी चीज से प्यार करो जिससे आपको कुछ नया सीखने को मिले किसी ऐसे इंसान से संगति करिए जहां से आपको कुछ अच्छी ज्ञान की बातें सीखने को मिले।

Network marketing kya hai [ 1 लाख कमाएं ] network marketing kaise kare. हिंदी में।

प्यार होने पर क्या होता है.

दोस्तों अक्सर देखा जाए तो ज्यादातर नए नौजवान जो कि किशोरावस्था में है उन्हें बहुत जल्द प्यार हो जाता है और वह ऐसा प्यार करते हैं कि वह अपने माता पिता यानी कि अपने घरवालों तक को भूल जाते हैं। दोस्तों 12 से 20 साल के लड़के एवं लड़कियों को बहुत ज्यादा प्यार हो जाता है अब यह प्यार 10 सेकंड या 1 सेकंड में भी हो जाता है।

इस नए दौर के बच्चों को जो चीज पसंद आ जाती है उसे पाने के लिए पूरी जोर-शोर लगा देते हैं और जब बॉयफ्रेंड और गर्लफ्रेंड का मामला होता है तब तो यह किसी की भी नहीं सुनते हैं। ऐसे हुआ क्या मेरे साथ घट चुका है तो जैसे-जैसे मेरे साथ घटना घटी है मैं अपने हिसाब से बता रहा हूं की प्यार होने पर क्या होता है।

जिंदगी में कोई भी चीज पहली बार अगर हमें मिले तो वह हमें काफी पसंद आ जाती है चाहे वह कोई वस्तु हो, या फिर कोई लड़का या लड़की हो। मैं अपना पर्सनल बात बताता हूं कि किशोरावस्था में किशोर एवं किशोरियों को बहुत जल्द प्यार क्यों होता है अगर इस उम्र में कोई व्यक्ति विशेष या फिर कोई लड़की या फिर लड़का किसी से अच्छी ढंग से या फिर अच्छी तरह से लड़की है लड़के से बात करता है।

एवं एक दूसरे की बात शेयर करता है और साथ में घूमता है फिरता है तो ऐसे में उसे धीरे धीरे प्यार महसूस होने लगता है। वजह कुछ और होती है प्यार करने का और आगे जाकर समाज कुछ और ही सोचने लगता है हम सोचते हैं कि हम दोनों आपस में बातें करें और अपने मन की बातें एक दूसरे के साथ शेयर करें लेकिन वहीं दूसरी तरफ समाज सोचते हैं यह उल्टा पुल्टा काम करता है।

ऐसी भावना एक किशोर एवं किशोरियों को पता लगता है कि लोग ऐसे विचार रखते हैं हमारे बारे में तो उन दोनों का साहस और बढ़ जाता है। हालांकि यह संभव नहीं है कि लोग उल्टा पुल्टा सोचे क्योंकि सोचने से पहले ही हिदायत कर देते हैं।

मैंने आपको ऊपर से बताते हुए आया हूं कि प्यार करने का अनेकों वजह हो सकता है। दोस्तों मुझे जैसा समझने में आया मैंने उस प्रकार से ऊपर आपको बताते आया हूं अगर आपके हिसाब से मेरे बताए गए कुछ बातें सही नहीं है तो आप कमेंट करके हमें बता सकते हैं जिससे कि मैं तुरंत एडिट कर सकता हूं और आपको धन्यवाद दे सकूं।

प्यार कैसा महसूस होता है.

जैसा कि आप सभी जानते हैं प्यार एक भावना है जो काफी संवेदनशील होता है और इसे हम शब्दों में बयां नहीं कर सकते, प्यार अलग अलग इंसान को अलग अलग तरीके से होता है और वह अपने मन मुताबिक यानी अपने मन के नजरिए से उसे अलग अलग तरीके से देखते हैं।

आजकल का जनरेशन, यह कहना गलत है कि आजकल के जनरेसन ही ऐसे प्यार करते हैं जो कि अपने समाज को भूल जाते हैं यह बात पहले के जमाने से ही चलता आ रहा है और जब ऐसे प्यार जब लोग करते हैं वह अपने आसपास के समाज के लोग अपने घर द्वार के लोग को भूल जाते हैं और वह जिससे प्यार करते हैं उसी के दिन रात सपने देखते हैं।

मैंने अभी आपको कहा कि प्यार एक एहसास है जो कि काफी संवेदनशील होता है तो अगर आप यह समझना चाहते हैं कि प्यार कैसा महसूस होता है तो इसे महसूस करने के लिए आपको खुद से किसी विशेष व्यक्ति/लड़की जो आपको पसंद हो उससे प्यार करना होगा।

आपको पता है कि हम जिस समाज में जी रहे हैं समाज में प्यार अलग अलग तरीके से होता है और किया जाता है। अगर हम अपने मां बाप को बहुत ही प्यार करते हैं तो इसका एहसास काफी गजब का होता है उसी प्रकार अगर हम अपने भाई या बहन से प्यार करते हैं तो ये काफी अच्छा होता है. तो आप समझ गए होंगे कि प्यार किस किस तरीके से और किस किस नजरिए से होता है और उसे हम कैसा महसूस करते हैं।

इनके अलावा जो सबसे पॉपुलर एवं खासम खास प्यार होता है वह होता है जिसके साथ हम ज़िन्दगी बिताना चाहते हैं. जब भाई आपके प्यार से जब को बिछड़ने का समय आता है तब बहुत ही दुख होता है और ऐसा प्यार जब हमें होता है तो हम अपने समाज को भूल जाते हैं और सिर्फ और सिर्फ अपने प्यार के बारे में सोचते हैं और हमें लगता है कि आप यही प्यार को समझे आए हैं।

प्यार की शुरुआत कब हुई.

अक्सर हमारे मन में यह सवाल जरूर आता है कि प्यार की शुरुआत कब से हुई थी और कैसे हुई ?.. दोस्तों यह हमें खुद पता नहीं है लेकिन हम आपको बताते हैं जब इस दुनिया का निर्माण हुआ था और जब मनुष्य इस पृथ्वी पर आए थे तभी प्यार कि शुरुआत हुई थी। आज तक हम लोगों को यह बात सही सही पता नहीं है कि सृष्टि का निर्माण कब और कैसे हुआ और यह बात अभी तक एक राज की तरह है। उसी प्रकार से प्यार भी एक राज की तरह है।

दोस्तों प्यार अगर शुरू नहीं होता तो इस पृथ्वी पर इतना लोग नहीं होता इसलिए आप समझ सकते हैं जब यह दुनिया बना तब से ही प्यार करना चलता आ रहा है।

तो दोस्तों मेरे मन में जितना भी प्यार को लेकर बातें थी वह सभी मैंने आपके समक्ष प्रस्तुत किया हमें लगता है कि हमारा विचार आपको पसंद आया होगा हमारे विचार से आपको प्यार के बारे में कुछ नया जाने को और सीखने को मिला होगा। चलिए थोड़ा और हम कुछ पॉइंट बनाते हैं और उन पर भी विचार करते हैं।

Pyar kya hai.

Realme kaha ki company hai – रियल मी का मालिक कौन है. पुरी जानकारी हिंदी में।

FAQ. Pyar kya Hai – pyar kya hota Hai.

मेरे हिसाब से प्यार क्या होता है और प्यार कैसे होता है वह मैंने ऊपर अभी आपको बताया और आप अपने हिसाब से मैं आपको नीचे आपके जो कुछ मन में सवाल हैं उनके जवाब देने वाला हूं तो चलिए देखते हैं कि वह कौन-कौन से सवाल है जो आपके मन में भटकते रहते हैं।

Q. प्यार का सही अर्थ क्या है?

Ans:- प्यार कोई वस्तु नहीं होता है यह एक भावना होती है जिसे सिर्फ महसूस किया जा सकता है। किसी भी व्यक्ति को या फिर लड़की को प्यार उसके दिमाग और दिल के मेल खाने से होता है. प्यार दो रिश्तों का एक बंधन है।

Q. प्यार करने के बाद क्या क्या होता है?

Ans:- हम लोगों को पता है कि प्यार दिल से तो किया जाता लेकिन दिमाग उस मन में पैदा हुए भावना को कंट्रोल करता है। और जब किसी से प्यार हो जाता है तब हमारे अंदर एक बेचेनी सी होने लगती है और जिससे प्यार हुआ है उससे मिलने के पुरा बेचेन रहते हैं। उससे ढेर सारी बातें और बहुत सारा समय उनके साथ बिताने का हम लोगों का मन करता है।

Q. प्यार क्या है और किस लिए होता है?

Ans:- प्यार एक भावना है ये तो हम लोगों को पता ही है और इसे हम महसूस कर सकते हैं। लेकिन आपको पता है कि आखिर प्यार किस कारण से होता है ?… नहीं ना ! तो दोस्तो हमारे दिमाग में कुछ camical relations होता है जिसकी वजह से हमारे brain में प्यार करने की भावना जगता है।

निष्कर्ष:-

तो दोस्तो हम उम्मीद करते हैं कि आपको pyar kya hai और pyar kya hota hai के बारे में आपको कुछ नया जानने को मिला होगा. दोस्तों हमने अभी तक तो girlfriend नहीं बनाया है इसलिए girlfriend वाला pyar के बारे में उतना जानकारी नहीं है। हमारे द्वारा लिखे हुए लेख आपको पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर साझा करें।

और इसे अपने फेसबुक और व्हाट्सएप पर जरूर शेयर करें ताकि हमारी लिखी हुई पोस्ट को आपके दोस्त भी पढ़ सके और आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप उसे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।


Abhishek Kumar

नमस्कार, मेरा नाम अभिषेक है. और में digital marketing करता हूं. मुझे internet जैसे digital चीजों में रूचि है इसलिए ये cloudhindi.com ब्लाग बनाया. मुझे जो भी नई जानकारी मिलती है में इस blog के जरिए unique information आप लोगों को बताता हूं. हमारा information आपको पसंद आते हैं तो हमें सोशल मीडिया पर फॉलो जरूर करें।

0 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!